Zindagi Shayari - ज़िन्दगी शायरी - Shayari On Zindagi

Zindagi Shayari: नमस्कार दोस्तो, हमेशा की तरह आज फिर से हाजिर है एक नए पोस्ट के साथ जिसका टाइटल है ज़िन्दगी शायरी। दोस्तो जिंदगी के भी कई रंग होते है कुछ बहुत ही रंगीन तो कुछ बदरंग लेकिन हमे जिंदगी के हर रंग को खुल के जीना चाहिए। आज के इस पोस्ट मेे shayari on zindagi, zindagi sad shayari, zindagi shayari in hindi, zindagi par shayari है जो आपको अच्छी लगेगी।

तुम मुझे इतनी मुहब्बत दे गये हो की, 

जिन्दगी जिन्दगी नही महक़ता गुलाब हो जैसे।


Zindagi Shayari - ज़िन्दगी शायरी

एहसास तेरा जब जब रूह को छूकर गुजरता है,

तब तब ज़िन्दगी का हर लम्हा टूटे पत्ते की तरह बिखरता है।


️️बड़े ही चुपके से भेजा था मेरे मेहबूब ने मुझे एक गुलाब,

️️कम्भख्त उसकी खुशबू ने सारे शहर में हंगामा कर दिया।  


ज़रूरी तो नहीं के शायरी वो ही करे जो  इश्क़ में हो,

ज़िन्दगी भी कुछ ज़ख्म बेमिसाल दिया करती है।


ऐसा लगता है जैसे हर इम्तिहाँ के लिए,

किसी ने जिन्दगी को हमारा पता दे दिया है।


Zindagi Par Shayari


अजीब किस्सा है जिन्दगी का,अजनबी हाल पूछ रहे है,

और अपनो को खबर तक नहीं।


Zindagi Shayari - ज़िन्दगी शायरी

जिन्दगी के बारे मे इतना ही लिख सका हुँ मै,

कि कुछ गहरे रिश्ते थे कमजोर लोगो से।


हम तो इन्तेजार करते करते अब मर जायेंगे,

कोइ तो आये ऐसा जिन्दगी में जो बेवफा ना हो।


अकेले ही काटना है मुझे ऐ जिन्दगी का सफर,

यूँ पल-दो-पल साथ चलकर मेरी आदत खराब न करो।


उदासियों की वजह तो बहुत है ज़िन्दगी में, 

पर खुश रहने के लिए तेरा मेरा साथ काफी है ।


Zindagi Shayari In Hindi


फिर उसके बाद मैंने कुछ नहीं खोया,

वो मेरी जिन्दगी का आख़िरी नुकसान था।


Zindagi Shayari - ज़िन्दगी शायरी

मै प्यासा और पानी का दरिया है तू,

तू जिन्दगी है मेरी और जीने का जरिया है तू।


फना कर दो अपनी सारी जिन्दगी अपनी  ‎माँ  के कदमो में,

दुनिया में यही एक मोहब्बत है जिसमें बेवफाई नही मिलती️।


अधूरी मोहब्बत मिली तो नींदें भी रूठ गयी,

गुमनाम ज़िन्दगी थी तो कितने सुकून से सोया करते थे।


पुर अमन ज़िन्दगी की हिमायत किया करो,

नफ़रत बुरी बला है मोहब्बत किया करो।


Zindagi Sad Shayari


कभी मतलब के लिए तो कभी सिर्फ दिल्लगी के लिए,

हर कोई मोहब्बत ढुंढ रहा है यहा अपनी ज़िन्दगी के लिए।


Zindagi Shayari - ज़िन्दगी शायरी

उन्होंने वक़्त समझकर गुज़ार दिया हमको,

और हम उनको ज़िन्दगी समझकर आज भी जी रहे हैं।


बेरंग सी दुनिया में रंग भर जाते हैं 

जब ज़िन्दगी में तुमसे कुछ दोस्त आ जाते हैं।


कह दो हर वो बात जो जरुरी है कहना क्योंकि,

कभी-कभी जिन्दगी भी बेवक्त पूरी हो जाती है।


️️️️जो मिलते है बिछड़ते भी है हम नादान थे,

जो एक मुलाक़ात को ज़िन्दगी समझ बैठे।


Shayari On Zindagi


मत पूछो कैसे गुजर रही है जिन्दगी, 

उस दौर से गुजर रही है जो दौर गुजरता ही नही।


Zindagi Shayari - ज़िन्दगी शायरी

साँसें मेरीजिन्दगी मेरी और मोहब्बत भी मेरी, 

मगर हर चीज मुकम्मल करने के लिए जरूरत तेरी ।


तुम्हारा एक पल साथ खरीदने के लिए,

थोड़ी-थोड़ी ज़िन्दगी रोज़ बेचते हैं हम।


ज़िन्दगी है चार दिन की कुछ भी न गिला कीजिये,

दवा ज़हर, जाम, इश्क जो मिले मज़ा लीजिये।


मेरी डूबती हुई क़िश्ती यूं सम्भल गई, 

म मिली तो लगा जिन्दगी मुकम्मल हो गई।


Zindagi Shayari


यहाँ गरीब को मरने की इसलिए भी जल्दी है साहब,

कहीं जिन्दगी की कशमकश में कफ़न महँगा ना हो जाए।


Zindagi Shayari - ज़िन्दगी शायरी

तुम मुझे इतनी मुहब्बत दे गये हो की, 

जिन्दगी जिन्दगी नही महक़ता गुलाब हो जैसे।


रफ़्तार कुछ जिन्दगी की यूं बनाये रख ग़ालिब की ,

दुश्मन भले आगे निकल जाए पर दोस्त कोई पीछे न छुटे।


पलट कर पन्ने जिन्दगी के तुमको तलाश लेते हैं,

हकीकत में ना सही ख्वाबों में ही छू लेते हैं।


सुनो सबहमे कहा मालूम था कि इश्क होता क्या है 

बस एक तुम मिले और जिन्दगी मोहब्बत बन गई।


ज़िन्दगी शायरी


जिन्दगी में आपके आने के बाद कोई ख्वाब नही देखा,

मेरी जिन्दगी की हर ख्वाहिश के पुर्ण विराम हो आप


Zindagi Shayari - ज़िन्दगी शायरी

रखा करो नजदीकिया जिन्दगी का कुछ भरोसा नही,

फिर मत कहना चले भी गऐ और बताया भी नही।


ज़िंन्दगी टकरा गयी उसी शख़्स से,

जो शायद हाथ की लकीरों में नहीं है।


ज़िन्दगी भी क्या गज़ब करती है,

समझदारी देकर मासूमियत छीन लेती है।


कभी ग़म कभी आंसू कभी हंसी कभी ख़ुशी,

क्या ख़ूब मज़ा चखाती है ये ज़ालिम ज़िन्दगी।


Zindagi Par Shayari


चार दिन की ज़िन्दगी मैं किस से कतरा के चलूँ,

ख़ाक़ हूँ मैं ख़ाक़ पर क्या ख़ाक़ इतरा के चलूँ।


Zindagi Shayari - ज़िन्दगी शायरी

जिन्दगी तुजसे हर वक्त समजौता क्यूँ किया जाए,

शौक जीने का है मगर इतना भी नहीं की मर मर के जिया जाए।


मंजिल तेरे अलावा भी कई हैं लेकिन

ज़िन्दगी और किसी राह पे चलना ही नहीं चाहती।


तुम मुझे इतनी मुहब्बत दे गये हो की, 

जिन्दगी जिन्दगी नही महक़ता गुलाब हो जैसे।


तेरी मोहब्बत कि तलब थी तो हाँथ फैला दिये हमने,

वरना हम तो अपनी जिन्दगी के लिए भी दुआ नही मागते।


Zindagi Shayari In Hindi


अगर सब कुछ मिल जाएगा ज़िन्दगी में तो तमन्ना किसकी करोगे,

कुछ अधूरी ख्वाहिशें तो ज़िन्दगी जीने का मज़ा देती है।


Zindagi Shayari - ज़िन्दगी शायरी

ज़िन्दगी में हर तूफान नुकसान करने ही नहीं आता, 

कुछ तुफान रास्ता साफ करने भी आते हैं।


क्यु नाराज़ होते हो मेरी इन नादान हरकतों से, 

कुछ दिन की जिन्दगी है फिर चले जायेंगे हम  आपके इस जहाँ से।


पलट कर पन्ने जिन्दगी के तुमको तलाश लेते हैं,

हकीकत में ना सही ख्वाबों में ही छू लेते हैं।


Zindagi Sad Shayari


तुम्हारी नफरत पर भी जिन्दगी लूटा दी हमने ऐ सनम,

सोचो अगर तुम मोहब्बत करते तो हम क्या करते।


मुझे उदास देख कर उसने कहा।मेरे होते हुए तुम्हे कोई दुख नहीं दे सकता,

फिर ऐसा ही हुआ ज़िन्दगी में जितने भी दुःख मिले उसी से मिले।


शीशे जैसा दिल है मेरा तोड़ ना देना,

जिन्दगी के सफर में साथ छोड़ ना देना


Zindagi Shayari - ज़िन्दगी शायरी

तुमने जिन्दगी नाम सुना होगा,

हमने तुम्हे पुकारा है इसी नाम से।


अगर आप उस इंसान की तलाश कर रहे हैं,

जो आपकी ज़िन्दगी बदलेगा तो आईने में देख लें।


मौहब्बत ज़िन्दगी के फैसलों से लड़ नहीं सकता इसमें,

किसी का होना पड़ता है तो किसी को खोना पड़ता है।


घर गुलज़ार सूने शहर बस्ती बस्ती में कैद हर हस्ती हों गई,

आज फिर ज़िन्दगी महंगीऔर दौलत सस्ती हो गईं।