Mohabbat Shayari | मोहब्बत शायरी | Ishq Mohabbat Shayari

Mohabbat Shayari: नमस्कार दोस्तो, हमेशा की तरह आज फिर से हाजिर है एक नए पोस्ट के साथ जिसका टाइटल है मोहब्बत शायरी। हम उम्मीद करते है कि ये पोस्ट आपको अच्छी लगेगी और आप इसे अपने दोस्तो के साथ जरूर शेयर करेंगे।


नफरत सी होने लगी है इस सफ़र से अब,

ज़िंदगी कहीं तो पहुँचा दे खत्म होने से पहले।


Mohabbat Shayari in hindi

मुद्दा दुःख बाटने का था,

बात दर्द देकर खत्म हुई।


वो थक गई थी भीड़ मे चलते हुए,

उसकी बदन पर बहुत सी निगाहों का बोझ था।


ज़िन्दगी कभी भी ले सकती है करवट, तू गुमां न कर,

बुलंदियाँ छू हज़ार मगर, उसके लिए कोई गुनाह न कर।


शुकून का एक लम्हा भी हासिल नहीं है मुझे, 

मुहब्बत को सुलाता हुं तो नफरत जाग जाती है।


Ishq Mohabbat Shayari

हरगिज़ गलत निगाह से परखा न कर मुझे, 

मैं तेरा हो चुका हूँ सोचा न कर मुझे।


Mohabbat Shayari in hindi


मुद्दत हो गयी कोई शख्स तो अब ऐसा मिले, 

बाहर से जो दिखता हो अन्दर भी वैसा ही मिले।


जाया ना कर अपने अल्फाज हर किसी के लिए,

बस खामोश रहकर देख तुझे समझता कौन है।


जो नहीं है हमारे पास वो ख्वाब है,

पर जो है हमारे पास वो लाजवाब है।


इश्क नाज़ुक मिजाज़ है बेहद,

अक्ल का बोझ नहीं उठा पाता।


मोहब्बत शायरी


मैं वो हूँ जो कहता था कि इश्क में क्या रखा है,

कुछ दिनों से एक हीर ने मुझे राँझा बना रखा है। 


Mohabbat Shayari in hindi

सबसे कीमती हो तुम,

मेरी हमसफर हो तुम।


रूह से रूह का मिलन भी क्या खूब है,

जिस्म की हर हसरत में बस महबूब है।


लफ़्जों की इस अदा क़ो मोहब्बत मत समझना हुजूर,

हर इश्क लिखने वाले के मेहबूब नही होते।


सब- कुछ पा लिया जिंदगी में मगर,

वो तेरे मेहंदी वाले हाथ नहीं पा सका।


Mohabbat Wali Shayari

ऐ मौत माना कि तू मुझे ख़ामोश कर देगी एक दिन,

लेकिन सदियों तक मै लोगों के दिलों में गूंजता रहूंगा।


Mohabbat Shayari in hindi

किसी को अपना बनाना हुनर है,

लेकिन किसी का बन के रहना कमाल की बात है।


सबसे छुप कर एक नाजायज मुहब्बत ही कर लो,

क्या हुआ जो उम्र चालीस पार हूं।


पनाह की चाहत में हम,

मोहब्बत बे-पनाह कर गये।


कुछ इस कदर बे-यार है हम,

अब हर किसी के यार है हम।


Pyar Mohabbat Ki Shayari

शायद इसलिए अब खुल के बरसात नहीं होती,

नई नस्ल के बच्चे अब कहा कश्तिया बनाते हैं।


Mohabbat Shayari in hindi

नजरें मेरी अब कमजोर हो चुकीं हैं,

तुम्हें अब नज़दीक आना होगा।


तुम सिर्फ़ लुत्फ उठाओ इन किस्सों के,

मत पूछो दर्द किसका है किसके लिए है।


चाहत सवार थी किसी के अंदर जिंदा रहने की,

और हुआ यूं कि हम अपने अंदर ही मर गए।


कैसे मान लूं की मजबूर थी तुम,

लहंगा तो तुम्हारी पसंद का था।


Urdu Shayari Mohabbat Images

कभी ज़्यादा कभी थोड़े कभी कुछ कम नज़र आए,

क़सम ले लो हमें हर वक्त तुम ही तुम नज़र आए।


Mohabbat Shayari in hindi

सबका दिल रखने के लिए,

अक्सर हमारा दिल टूट जाता है।


दिल के रिश्ते किस्मत से मिलते हैं,

वरना मुलाकात तो हज़ारो से होती हैं।


उन आँखों की झपकियों को भी सौ दफा सलाम है ए दिल,

जिन आँखों की पलकों के नीचे मेरी चाहत पनाह लेती है।


नींद भी नीलाम हो जाती हैं दिलों की महफ़िल में जनाब,

किसी को भूल कर सो जाना इतना आसान नहीं होता।


Mohabbat Shayari With Picture

मुझे तो क़ैद-ए-मोहब्बत अज़ीज़ थी लेकिन,

किसी ने मुझ को गिरफ़्तार कर के छोड़ दिया।


Mohabbat Shayari in hindi


काश कुछ जिम्मा तुम भी उठा लेते,

टूटने से ना सही बिखरने से बचा लेते।


मुझे स्वयं से नफ़रत सी महसूस होती है, 

जब मेरे अपने मुझे नजरअंदाज करते हैं।


लगा कर फूल होठो से उसने कहा चुपके से,

अगर यहा कोई नहीं होता तो फूल की जगह तुम होते।


नए गुनाह किए पुराने को छुपाने के लिए,

हमने इश्क़ कर लिया इश्क़ भुलाने के लिए।


Mohabbat Shayari in hindi

फिर किसी मोड पर मिल जाऊँ तो मुँह फेर लेना, 

पुराना इशक हूँ उभरा तो क़यामत होगी ।


Mohabbat Shayari in hindi

मोहब्बत किताबों कि उन आखिरी पन्नों से होती है,

जिसमे पढ़ लेने की खुशी भी और खत्म होने का गम भी रहता है।


ऐ दिल उनकी निगाहों की बाजीगरी तो देख,

हमको पता ना चला उन्होंने तुझको चुरा लिया।


जिंदगी  तेरे लिये  सब को ख़फ़ा  हमने  किया,

अपनी  किस्मत है कि अब  तू भी ख़फ़ा हम से हो गयी 


Mohabbat Shayari


हम ने चलना छोड़ दिया अब उन राहों में,

टूटे वादों के टुकड़े चुभते है अब पांवो में।


Mohabbat Shayari in hindi

ये भी अच्छा है की सिर्फ सुनता है दिल,

अगर बोलता तो कयामत हो जाती।


ये हुनर खुदा ने तो सिर्फ लड़कों को बख्सी है,

महबूब से बिछड़ कर लड़कियां कहा पागल हुई है।


Read More:

Mushkurahat Shayari

Naraz Shayari

Narazgi Shayari

Nice Shayari

Two Line Shayari